रविवार, अक्टू 20

  •  
  •  
आप यहाँ हैं:घर मुख्यालय समाचार एवं सूचनाएँ पुराने समाचार हिंदी समाचार एवं सूचनाएँ वेबसाइट लोकार्पण एवं हिंदी सेवी सम्मान

वेबसाइट लोकार्पण एवं हिंदी सेवी सम्मान

25 अगस्त, 2012, केंद्रीय हिंदी संस्थान, दिल्ली केंद्र

इस अवसर पर संबोधित करते हुए मंडल के माननीय उपाध्यक्ष प्रो. अशोक चक्रधर ने कहा कि संस्थान में हिंदी के लिए काम करने की जिजीविषा है। हिंदी के शिक्षण-प्रशिक्षण के साथ साथ आज संस्थान हिंदी के उजाले से दुनिया भर को आलोकित करने वाली नई राहों के नक़्शे तैयार कर रहा है। नई सदी की नई चुनौतियों और ज़रूरतों के अनुसार हमने कुछ नए लक्ष्यों और कार्यक्रमों का निर्धारण किया है। हमारा एक स्वप्न पथ है विज़न 2021, जिसमें हिंदी के पॉपुलर कल्चर और पॉपुलर मीडिया का प्रोत्साहन है। हिंदी की विरासत का डिजिटाइजेशन और डॉक्युमेंटेशन करने का संकल्प है। मल्टीमीडिया और आईटी की सुविधाओं का लाभ हिंदी को मिले। अच्छे ऑडियो-विजुअल शिक्षण कार्यक्रमों, साहित्यकारों पर फ़िल्म निर्माण हों। तभी हिंदी की ताक़त और हिंदी की रेंज दुनिया को पता चलेगी। तभी हिंदी का उजाला दुनिया भर को आलोकित करेगा।”

pankaj-pachauri-kapil-sibbal
vinod-agnihotri-kapil-sibbal-ashok-chakradhar-mohan-ji
vimlesh-kanti-verma-kapil-sibbal-mohan-ji

अपने उद्बोधन का समापन प्रो. चक्रधर ने एक अत्यंत भावपूर्ण और प्रेरक कविता के साथ किया जिसका भाव यह था कि प्रगति के पथ चुनौतियाँ बाधाएँ चाहे कितनी प्रबल क्यों न हों परंतु हमारे संकल्प की दृढ़ता और शुचिता ही विजयी होती है।

 

हिंदी सेवियों का सम्मान

इस अवसर पर मंत्री महोदय ने तीन हिंदी सेवियों- श्री विनोद अग्निहोत्री, श्री पंकज पचौरी और प्रो. विमलेश कांति वर्मा का सम्मान भी किया। स्वदेश में न होने के कारण ये हिंदी सेवी राष्ट्रपति भवन में आयोजित कार्यक्रम में शामिल नहीं हो पाए थे।

नवनिर्मित वेबसाइट का परिचय 

इस अवसर पर संस्थान की नवनिर्मित वेबसाइट का परिचय उपस्थित विद्वानों एवं छात्रों के समक्ष प्रस्तुत किया। परिचय देने का कार्य हाल ही में विभागाध्यक्ष बने डॉ प्रमोद कुमार शर्मा ने अपने विभागीय सहयोगी श्री अनुपम श्रीवास्तव के साथ मिलकर किया। इस अवसर पर केंद्रीय हिंदी शिक्षण मंडल की शासी परिषद् के वरिष्ठ सदस्य प्रो. शिवकुमार मिश्र, रेलमंत्रालय के पूर्व राजभाषा निदेशक डॉ. विजय कुमार मल्होत्रा, कें.हिं.संस्थान के आईटी विभाग की पूर्व प्रोफ़ेसर डॉ. वशिनी शर्मा, भारतकोश के प्रशासक एवं संचालक श्री आदित्य चौधरी, लोकप्रिय वेबमीडिया पोर्टल प्रभासाक्षी के संपादक श्री बालेंदु दाधीच, मानव संसाधन मंत्रालय के अवरसचिव श्री के.पी.जे. जेराल्ड, संस्थान के वरिष्ठ प्रोफ़ेसर डॉ. श्रीशचंद्र जैसवाल, डॉ. देवेंद्र शुक्ल, डॉ. भरत सिंह, डॉ. गीता शर्मा संस्थान के कुलसचिव डॉ. चंद्रकांत त्रिपाठी सहित डॉ. ज्योत्स्ना रघुवंशी, केशरी नंदन, राजेंद्र कुमार पांडेय, अवधेश शर्मा आदि की उपस्थिति उल्लेखनीय रही।

अंत में दिल्ली केंद्र के क्षेत्रीय निदेशक प्रो. रविप्रकाश गुप्ता ने इस अवसर पर पधारे सभी आगंतुकों का धन्यवाद ज्ञापन किया। कार्यक्रम का समापन राष्ट्रगान के गायन के साथ हुआ। कार्यक्रम का संयोजन और संचालन मैसूर केंद्र के क्षेत्रीय निदेशक प्रो. एम. ज्ञानम ने किया।

उद्घाटन समारोह वीथिका देखें