मंगलवार, दिस 10

  •  
  •  
आप यहाँ हैं:घर परियोजनाएँ सी. डी. निर्माण

भाषा-साहित्य सी. डी. निर्माण परियोजना

परियोजना के बारे में


भाषा साहित्य सी.डी. निर्माण परियोजना संस्थान के सूचना तथा भाषा प्रौद्योगिकी विभाग के तहत संचालित एक महत्वपूर्ण परियोजना है। इस परियोजना का प्रमुख उद्देश्य है- हिंदी को समसामयिक प्रचार-प्रसार माध्यमों से जोड़कर देश-विदेश में फैले हिंदी प्रेमियों और शिक्षार्थियों के बीच इसकी लोकप्रियता का प्रसार।

इस परियोजना के तीन उपखंड हैं- हिंदी आलोक (शैक्षिक मल्टीमीडिया कार्यक्रम श्रंखला), हिंदी सुरभि (शैक्षिक ऑडियो कार्यक्रम निर्माण श्रंखला) और शैक्षिक वीडियो कार्यक्रम निर्माण श्रंखला 


शैक्षिक मल्टीमीडिया कार्यक्रम श्रंखला : हिंदी आलोक

हिंदी आलोक (हिंदी भाषाशिक्षण सी.डी.) के अंतर्गत हिंदी को नवीनतम सूचना एवं संचार तकनीकी (ICT) माध्यमों से जोड़कर देश-विदेश में फैले हिंदी शिक्षार्थियों के लिए हिंदी भाषाशिक्षण के विविध पक्षों पर मल्टीमीडिया सी.डी. तैयार की जा रही हैं।

इस श्रंखला का प्रमुख उद्देश्य है- ‘देश-विदेश में अपने विभिन्न प्रयोजनों से निजी स्तर पर हिंदी सीखने के इच्छुक शिक्षार्थियों को घर बैठे आधुनिक सूचना एवं तकनीकी माध्यमों और सुविधाओं का उपयोग करते हुए रोचक एवं व्यवस्थित ढंग से भाषा सीखने की सामग्री उपलब्ध कराना।’ इस दृष्टि से इस परियोजना में प्रस्तुत किए जाने वाले कार्यक्रमों (सी.डी. ) का फ़ॉर्मेट विशुद्ध ऑडियो-वीडियो प्रस्तुति के स्थान पर शिक्षार्थी-केंद्रित ऑफ़-लाइन मल्टीमीडिया सी.डी. के रूप में तय किया गया है ताकि इनमें प्रस्तुत की जाने वाली शिक्षण सामग्री एवं सहायक उपकरण-युक्तियों का शिक्षार्थी अपनी व्यक्तिगत आवश्यकता और गति से उपयोग कर पाएं।

इस श्रंखला में प्रस्तुत की जाने वाली संपूर्ण शिक्षण-सामग्री के 10 पैकेज तय किए गए हैं। हर पैकेज में विषय की आवश्यकतानुसार अनेक सी.डी. होंगी। योजना के प्रथम चरण में कुल 10 शिक्षण-कार्यक्रमों (सी.डी. ) की निर्माण-प्रक्रिया आरंभ कर दी गई है, जिनमें से ‘हिंदी उच्चारण शिक्षण’ और ‘हिंदी लिपि एवं वर्तनी शिक्षण’ विषयक दो कार्यक्रमों का निर्माण अंतिम चरण में है। इसके अलावा ‘मीडिया में हिंदी’, ‘हिंदी में कंप्यूटर और सूचना-तकनीकी संसाधन’ और ‘हिंदी भाषी समाज और संस्कृति’ विषयों पर मल्टीमीडिया कार्यक्रमों के निर्माण की प्रक्रिया आरंभ हो चुकी है।


शैक्षिक ऑडियो कार्यक्रम श्रंखला : हिंदी सुरभि

हिंदी सुरभि (साहित्य सी.डी. निर्माण परियोजना) के लक्षित लाभार्थी वे सभी हैं जो अपनी व्यक्तिगत रुचि, आवश्यकता और सुविधानुसार हिंदी साहित्य की उच्चतर सृजनात्मक उपलब्धियों से परिचित होना चाहते हैं। इसी उद्देश्य को ध्यान में रखते हुए संस्थान इस परियोजना के अंतर्गत हिंदी साहित्य के विभिन्न कालखंडों से चयनित कवियों की रचनाओं पर आधारित संगीतमय ऑडियो कार्यक्रमों का निर्माण कार्य कर रहा है।

इस परियोजना के प्रथम चरण में कुल 20 कवियों की रचनाओं पर संगीतमय ऑडियो सी.डी. तैयार की जानी हैं। जिनमें से प्रथम चरण के आरंभ में सूर्यकांत त्रिपाठी निराला, स.वा. अज्ञेय, त्रिलोचन, फ़िराक गोरखपुरी की रचनाओं की संगीतमय ऑडियो सी.डी. तैयार करने की गई-, इनके अलावा सूरदास की रचनाओं की ऑडियो सी.डी. की डमी भी तैयार है। इन सभी सी.डी. का उद्घाटन दिनांक 23.10.08 को साहित्य अकादमी सभागार, नई दिल्ली में किया गया.


शैक्षिक वीडियो कार्यक्रम श्रंखला

इस श्रंखला में महादेवी वर्मा के व्यक्तित्व और रचनाओं पर आधारित संगीतमय वीडियो वृत्तचित्र ‘पंथ होने दो अपरिचित’ का निर्माण किया जा चुका है। इसके उपरांत साहित्यिक वृत्तचित्र 'आदमीनामा' का निर्माण कार्य पूरा किया जा चुका है। यह वीडियो डॉक्युमेंट्री लोककवि नज़ीर अकबराबादी के जीवन और रचनाकर्म पर आधारित है।

एक घंटा अवधि की इस फ़िल्म की अधिकांश शूटिंग आगरा और नज़ीर के जीवन एवं काव्य से संबंधित वास्तविक स्थानों पर हुई है। फिल्म का परिदृश्य और सरोकार नज़ीर की कविताओं जितना ही व्यापक, जीवंत और रंगीन है। इसमें आगरा की ऐतिहासिक-सांस्कृतिक धरोहर को खूबसूरती से फ़िल्माया गया है।
डॉक्युमेंट्री की संनिरीक्षण समिति (रिव्यू कमेटी) में सम्मिलित बाह्य विशेषज्ञ विद्वान हैं - नज़ीर काव्य के प्रथम शोधकर्ता, अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय, अलीगढ़ के पूर्व हिंदी विभागाध्यक्ष प्रो. नज़ीर मुहम्मद, सुप्रसिद्ध रंगकर्मी और क.मुं. विद्यापीठ के विदेशी भाषा विभाग के विभागाध्यक्ष डॉ. जितेंद्र रघुवंशी और वरिष्ठ वृत्तचित्र निर्माता और फिल्म समीक्षक श्री रियाज़ ख़ान.


इन सभी कार्यक्रमों को तैयार करने के लिए शैक्षणिक एवं साहित्यिक कार्यक्रम निर्माण में अनुभव रखने वाले देश के प्रतिष्ठित प्रोड्यूसरों का सहयोग लिया जा रहा है।


सोशल मीडिया पर सी.डी. परियोजना :

परियोजना से जुड़े सोशल मीडिया पृष्ठों को देखें -

http://khshindicds.blogspot.in/

https://www.youtube.com/channel/UCSa3joXwtc4_zV7WeNk1ufA

https://www.facebook.com/pages/KHS-Hindi-CDs/107475372656134?sk=info&tab=page_info

सी.डी. खरीद के बारे में संपर्क करें-

सूचना तथा भाषा प्रौद्योगिकी विभाग
केंद्रीय हिंदी संस्थान, आगरा – 282005
दूरभाष – 0562-2530683 निदेशक सचिवालय : 0562-2530684
ईमेल : यह ईमेल पता spambots से संरक्षित किया जा रहा है. आप जावास्क्रिप्ट यह देखने के सक्षम होना चाहिए.