सोमवार, जुल 22

  •  
  •  

रवीश कुमार

Ravish-kumar

श्री रवीश कुमार बीते लगभग दो दशकों से हिंदी इलेक्‍ट्रॉनिक मीडिया में एक अनिवार्य उपस्थिति हैं। इतिहास में स्‍नातकोत्‍तर रवीश कुमार ने पत्रकारिता को सिर्फ कॅरियर के लिए नहीं, बल्कि समाज के प्रति अपनी वृहत् जिम्‍मेदारी के माध्‍यम के रूप में चुना है। श्री रवीश कुमार का जन्म 5 दिसम्बर, 1972 को हुआ।

कार्यक्षेत्र

रवीश जी ने नब्‍बे के दशक में समाज और राजनीति में आ रहे विवादास्‍पद बदलावों को सकारात्‍मक और वैकल्पिक दृष्टि से विश्‍लेषित किया। अनेक लोकसभा एवं विधानसभा चुनावों की सघन रिपोर्टिंग करते हुए इन्‍होंने समाज के हाशिए में दबे अल्‍पसंख्‍यक और अंधेरे कोनों को  उजागर किया। ऐसे अनेक प्रसंगों पर इन्‍होंने स्‍पेशल रिपोर्ट और रवीश की रिपोर्ट नाम से सौ से ज्‍यादा डॉक्‍यूमेंट्री फिल्‍में बनाई हैं। लोकप्रिय समाचार चैनल एनडीटीवी इंडिया से पिछले सत्रह वर्षों से जुड़े श्री रवीश कुमार वर्तमान में इसके सीनियर एक्‍जीक्‍यूटिव एडिटर हैं। इस चैनल में ‘हम लोग’ और ‘प्राइम टाइम’ जैसे उनके कार्यक्रमों ने दर्शकों के बीच लोकप्रियता के अपूर्व कीर्तिमान स्‍थापित किए हैं। श्री रवीश कुमार को पत्रकारिता का प्रतिष्ठित रामनाथ गोयनका सम्‍मान दो बार प्राप्‍त हो चुका है। इन सत्रह सालों में जनता और जनतंत्र से जुड़े विभिन्‍न मुद्दों से रूबरू रहकर इन्‍होंने बबरिया चैनल और विशेषत: मीडिया-संवाद की भाषा का अपना डिस्‍कोर्स विकसित किया है।

सम्मान एवं पुरस्कार

समकालीन सामाजिक एवं लोकतांत्रिक सरोकारों से निरंतर संवाद करने वाले श्री रवीश कुमार जैसे अप्रतिम पत्रकार को 'गणेश शंकर विद्यार्थी पुरस्कार' से सम्मानित कर 'केंद्रीय हिंदी संस्थान' गर्व का अनुभव करता है।

संपर्क

1002-ए, सनब्रीज अपार्टमेंट,

सैक्‍टर-5, वैशाली,  गाजियाबाद-201010 (उ.प्र.)

ई-मेल –     यह ईमेल पता spambots से संरक्षित किया जा रहा है. आप जावास्क्रिप्ट यह देखने के सक्षम होना चाहिए.