मंगलवार, जुल 23

  •  
  •  
आप यहाँ हैं:घर क्षेत्रीय केंद्र दिल्ली केंद्र भावी योजनाएँ

भावी योजनाएँ दिल्ली केंद्र

  • संस्थान के दिल्ली केंद्र में सूचना प्रौद्योगिकी से उपलब्ध सुविधाओं का उपयोग करते हुए हिंदी शिक्षण और प्रशिक्षण कार्यों को सुचारू रूप से संपन्न करने के लिए एक मल्टीमीडिया प्रयोगशाला की स्थापना का विचार है। इस मल्टीमीडिया प्रयोगशाला में अध्येताओं को अपनी सुविधा से ओर परस्थाना (Intrectivity) के साथ सीखने की सुविधा प्राप्त हो सकती है। इसके लिए उपयुक्त सामग्री के निर्माण का कार्य मुख्यालय के साथ दिल्ली केंद्र तथा अन्य सरकारी क्षेत्रीय केंद्र कर सकेंगे और समस्त सामग्री को सभी केंद्र उपयोग में ला सकेंगे।
  • नेशनल टेस्टिंग सर्विस (NTS) - भारतीय भाषा संस्थान मैसूर के सहयोग से दिल्ली केंद्र में एक एक (Unit) की स्थापना की जा रही है। इसके अंतर्गत हिंदी के मानक परीक्षण बनाने की योजना तथा विभिन्न कार्यशालाएं आयोजित करने की योजना है।
  • संस्थान अभी तक किराए के भवन में कार्य करता रहा है। इस कारण हम अपने शैक्षिक कार्यक्रमों को यथावत विस्तार नही दे पाए। अब अपने भवन में आने के बाद इस बात की गुजाइंश हो गई है। हम अधिक संख्या में प्रवेश देकर अपने कार्यक्रमों का विस्तार कर सकेंगे।
  • स्थान पहले देश-विदेश के अध्यापकों के लिए ग्रीष्मकालीन पाठ्यक्रमों का आयोजन करता रहा है लेकिन स्थानाभाव के कारण इन कार्यक्रमों को स्थगित करना पड़ा। अब नए भवन में संस्थान हर वर्ष 6-8 सप्ताह के ग्रीष्मकालीन पाठ्यक्रम चलाने के बारे में पहल करेगा।